Loading...
 

तेज द्रव्य

जो रूप तथा स्पर्शवाला है वह तेज है। रूप इसका स्वाभाविक गुण है परन्तु स्पर्श किये जाने वाला गुण वायु के कारण है।


Contributors to this page: hindi .
Page last modified on Friday March 14, 2014 06:32:56 GMT-0000 by hindi.