Loading...
 
भारत के चार धामों में शामिल यह मंदिर देश के सर्वाधिक पवित्र तीर्थस्थलों में एक है। 12वीं शताब्दी में चोड़ागंगा ने अपनी राजधानी परिवर्तन के उपलक्ष्य में इसे बनवाया था। जगन्नाथ मंदिर की ऊंचाई 65 मीटर है और इसे भारत के सबसे ऊंचे मंदिरों में एक माना जाता है। इसे कलिंग वास्तु शैली में बनाया गया है। मंदिर चारों तरफ से 20 फीट ऊंची दीवार से घिरा है। जिनके आसपास बहुत से छोटे मंदिर बने हुए हैं। इस मंदिर की एक खासियत यह है कि इसमें जाति के आधार पर किसी तरह का भेदभाव नहीं किया जाता।