Loading...
 

चतुर्व्यूह

व्यूहवाद में चतुर्व्यूह भगवान के चार प्रकार के रूप धारण करने को कहते हैं। ये हैं - व्यूह, विभव, अर्चावतार, तथा अन्तर्यामी अवतार।

व्यूह में वासुदेव (भगवान कृष्ण) सर्वकामी परमात्म्य स्वरूप हैं, संकर्षण जीव हैं, प्रद्युम्न मन है तथा अनिरुद्ध अहंकार है।

Contributors to this page: hindi .
Page last modified on Thursday June 18, 2015 05:45:06 GMT-0000 by hindi.