Loading...
 

गुण सम्प्रदाय

गुण सम्प्रदाय साहित्यकारों का वह वर्ग है जो साहित्य में गुण को ही सर्वाधिक महत्व देता है। साहित्य में गुण क्या हैं इसपर विद्वानों में मतभेद रहा है परन्तु दस गुणों को अधिसंख्य विद्वान मानते हैं। ये हैं - माधुर्य, ओज, प्रसाद, श्लेष, समता, सुकुमारता, अर्थव्यक्ति, उदारता, कान्ति और समाधि।

यद्यपि गुण सम्प्रदाय की कभी कोई सत्ता नहीं रही है परन्तु इसके आचार्यों में दण्डी और वामन का उल्लेख मुख्य रूप से किया गया है।


Contributors to this page: hindi .
Page last modified on Tuesday February 24, 2015 16:30:18 GMT-0000 by hindi.