Loading...
 

कथाकाव्य

वह काव्य जिसमें कोई कथा होती है, कथाकाव्य कहलाता है। संसार भर में प्रचीन काल से ही अनेक रूपों में कथाकाव्य मिलते हैं। यह आकार-प्रकार में प्रबंध काव्य (महाकाव्य और खण्डकाव्य) से छोटा होता है।

विकास क्रम में कथाकाव्य श्रव्य काव्य के रूप में ही प्रचलित हुआ और इन्हें कवि घूम-घूमकर लोगों को सुनाया करते थे।

परन्तु बाद में कथाकाव्य लिखे और पढ़े जाने लगे।


Contributors to this page: hindi .
Page last modified on Tuesday August 5, 2014 16:59:17 GMT-0000 by hindi.