Loading...
 

एक्सप्रेशनिज्म

एक्सप्रेशनिज्म एक मत है। इसमें कहा गया कि बाह्य जगत आन्तरिक जगत की ही एक अभिव्यक्ति है। इस प्रकार किसी भावना की कलात्मक अभिव्यक्ति को एक्सप्रेशनिज्म कहा जाता है। यह किसी आन्तरिक तथ्य का बाह्याकार प्रकटीकरण है। इसी भावना से ओतप्रोत होकर कला या साहित्य सृजन करने को एकस्प्रेशनिज्म नामक वाद कहा गया।

इस वाद का जन्म 1920 के आसपास जर्मनी में हुआ। हालांकि इसके बीज उन्नीसवीं शताब्दी के अन्त में देखने को मिलते हैं।


Contributors to this page: hindi .
Page last modified on Sunday August 3, 2014 16:16:55 GMT-0000 by hindi.