Loading...
 

अनुभूति

अनुभूति एक मनोदशा है जो जिसमें व्यक्ति अपने अन्दर ही हर्ष, विशाद, क्लेश, निराशा, विस्मय, खेद, पश्चचाताप, आशा, विश्वास, उतसुकता, चिंता आदि का अनुभव करता है।

अनुभूतियों का अन्त सुख और दुःख में ही होता है। विभिन्न प्रकार की अनुभूतियों की मात्राएं निर्धारित कर देती हैं कि व्यक्ति पर उन अनुभूतियों का अन्तिम परिणाम क्या होगा।

अनुभूतियां यद्यपि व्यक्ति की आन्तरिक कार्य व्यापार हैं, उनका प्रभाव व्यक्ति के व्यवहार में स्वयमेव ही प्रकट होने लगता है।

साहित्य में अनेक प्रकार से अनुभूतियों का वर्णन हुआ है जो निम्नलिखित हैं -
काव्यानुभूति, रसानुभूति, भावानुभूति, प्रतिम अनुभूति, विलक्षण अनुभूति, रहस्यानुभूति, दिव्यानुभूति, लौकिक अनुभूति, प्रत्यक्षानुभूति, सहानुभूति तथा सौन्दर्यानुभूति।

Contributors to this page: hindi .
Page last modified on Saturday December 14, 2013 16:58:07 GMT-0000 by hindi.